epi-6CHANGE(dévelopment )

#इसेविकास कहते हैं। 

भी कह सकते हैं,! ये दोनों  तरह का हो सकता है—अच्छा, खराब 

# शायद कभी किसी ने ध्यान  नहीं दिया कि अगर हम ध्यान नहीं देंगें तो भी बदलाव तो आएगा ही।
#पहले काभारत ( कोई रंग भेद नहीं)
#अब का भारत(कर्नाटक में)
#वहाँ कीजनता को शायद अभी ये याद नहीं है कि वो हिन्दू ही हैं।
#आदम युग>मॉडर्न युग

फिर भी किसी ने ध्यान नहीं दिया,

वो शा#

#कि—घोषणा –aहो रही थीकि सोना खरीदो।
#
सरकार ने सोना सस्ता भी किया।
#
जन धन योजना द्वारा हरेक का एकखाता खुलवाया जा रहा था।
#8th तक अनपढ़ रखने वाले नियम व बिना पढे पास होने वाले नि यम को बंद कर लघु उद्योग (make in India) पर जोर दिया जा रहा था।
#skillOndia भी

#ptm वatmद्वारा भी
#शायद
ये सब इसीलिये हो रहा था कि अगर कालाधन व उसव्यापारी वर्ग पर सर्जिकल स्ट्राइक कर सीमा पर भी दुश्मन को धन की रोक लगा सकें।
पर शायद तब सब मोदी को कोसने में लगे थे, किसी को अभी भी देश की फिक्र नहीं है शायद और न ही तब थी।
# भारत की जनता की रक्षा में सरकार ने सेना भी लगा दी,
#क्या सामान्य व सभीव्यापारी वर्ग अभी भी पीएम मोदी के साथ तिरंगे झंडे के साथ खडे नहीं होना चाहेंगे?

,, अगर आप जिना चाहें कि संसार क्या है तोचैक करें। -what is world? 

                SANGHARSH42

Advertisements

7 thoughts on “epi-6CHANGE(dévelopment )”

  1. every action has an equal an opposite reaction. with more than 100 crore population in India, there are few who have suffered by the demonetization of rupees. so its natural when you take any action there must be some voices against it. it’s natural, nothing to worry.

    Liked by 1 person

    1. ये हर पार्टी कर सकती थीपर किसी ने नहीं किया। भारत पर तिरंगा जो भी लहराए व संभाल ले देश तो उसी के साथ है।

      Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s